Tuesday, September 27, 2011

अमर शहीद भगत सिह - यादो के चित्र


4 comments:

दिनेशराय द्विवेदी Dineshrai Dwivedi said...

बहुत कुछ स्मरण करा दिया इन चित्रों ने।

दृष्टिकोण said...

शहीदेआजम भगत सिंह ने कहा था -‘‘भारतीय मुक्ति संग्राम तब तक चलता रहेगा जब तक मुट्ठी भर शोषक लोग अपने फायदे के लिए आम जनता के श्रम को शोषण करते रहेंगे। शोषक चाहे ब्रिटिश हों या भारतीय।’’क्या कहीं भी यह भारतीय मुक्ति संग्राम अस्तित्व में है ?
दृष्टिकोण
www.drishtikon2009.blogspot.com

ललित शर्मा said...

शहीदो को शत शत नमन,

आभार

rajesh Dwivedi said...

bhakt matr-bhumi ke the, bhumika swatanrata ki, naam ke bhagat singh kaam aag -pani ke, bahre vidhayko ke kan me dhamaka kiya, huye agra-doot yo kranti ki kahani ke, dasta ke dayko ko kal vikral bane, desh ko sikhaye upyog yo jawani ke, fansi chumte samay bhi matra jay-ghosh kiya sara desh kurban teri kurbani ke....