Sunday, February 28, 2010

होली पर ब्लोगर्स की झान्की


बुरा ना मानो होली है

होली पर नजीर अकबरावदी जी की इस गज़ल से अधिक सार्थक मुझे कुछ भी नही नज़र आता. इसलिये आज की बात यही से शुरु कर रहा हू. बहुत बार ऐसा होता है कि हम होली पर अपने चिर परिचित परिवेश से दूर होते है तब नज़ीर जी के बनाये हुए इन शब्द चित्रो से ही होली की मस्ती और उसके रन्गो को महसूस किया जा सकता है. अगर फ़ागुन नही होता तो होली इतनी मस्ती का त्योहार होता या नही?   चलो फ़ागुन भी होता और डफ की थाप नही होती और ये भी होता तो अगर कोई परी नही होती तो क्या हम ऐसे ही होली पर नशे मे धुत्त होकर रन्ग भरी पिचकारी से किसी की अन्गिया भिगो रहे होते. चून्कि ये सब है और जीवन खुद मे एक रन्गीन उत्सव है कुछ हल्के रन्ग है तो कुछ चटख  रन्ग है ऐसे ही जैसे दुनिया रन्ग बिरन्गी है वैसे ही हमारे ब्लोग जगत के ब्लोगर भी रन्ग बिरन्गे है. आओ आनन्द ले इस रन्गीन दुनिया के रन्गीन ब्लोगर्स के साथ शाब्दिक मस्ती का  -

ब्लोग जगत के सारे ब्लोगर                            गागर मे भर देते सागर


ब्लोगर अनूप शुक्ला                                         थोडी सी मौज क्या ले ली, जमाना रूठ गया
                                                                              हम तो दीवाने थे ही जमाना दीवाना हो गया
****************************************************************************
ब्लोगर समीर लाल                                       आसमान से आया फ़रिस्ता ब्लोग का सबक सिखलाने
                                                                       उडनतस्तरी पे बैठ के आता  सबकी  पोस्ट पे टिपियाने
****************************************************************************





ब्लोगर ललित शर्मा                                          फ़ौजी जैसा वेश  है लम्बी लम्बी मूछ


                                                                              जिसकी जितनी मूछ है उसकी उतनी पूछ
****************************************************************************
ब्लोगर बी एस पाबला                                       तकनीकी उस्ताद है करते पर्दाफ़ास
                                                                              ऐरी गैरी समस्या नही फ़टकती पास                            
****************************************************************************
ब्लोगर अनीता कुमार                                       मेरे ब्लोग  को जिन्दगी देने वाली
                                                                              कभी तो मिलोगी नवी मुम्बई वाली
****************************************************************************
ब्लोगर सन्गीता पुरी                                         ब्लोग जगत मे सभी का स्वागत करती आप
                                                                               ज्योतिष विद्या मे निपुण  मुझे बता दो जाप                             
****************************************************************************
ब्लोगर अविनाश वाचस्पति                             हम ब्लोगर मिलन कर करके सनम
                                                                               लिखते भी रहे पढते भी रहे
                                                                               ब्लोगर सन्गठन की बात क्या कर दी भाई
                                                                               कुछ लोग जुडे कुछ रूठ गये तो रूठ गये
****************************************************************************
ब्लोगर अजय झा                                               मै ब्लोगिन्ग का इन्द्रजीत हू नही किसी से डरता हू 
                                                                             कौन है  कितने पानी मे सबकी रिपोर्टिन्ग करता हू                                                 
****************************************************************************
ब्लोगर दिनेश राय द्विवेदी                                 सरदार ने जहा ला के  पटका है 
                                                                              अनवरत का वही पर झटका है  
****************************************************************************
ब्लोगर महफ़ूज़ अली                                         अरे.........   रूकना ए हसीनो लो मै आ गया 
                                                                              पडे जो जरूरत लाठी बल्लम लेके आ गया                                         
****************************************************************************
राजीव - सन्जू तनेजा                                         किसकी फोटो कहा चेप दे कलाकार ये पर भारी है  
                                                                               डरे सिर्फ़ सन्जू भाभी  से  और सभी से यारी है                
****************************************************************************
ब्लोगर रश्मि रवीजा                                          मेरी पोस्ट की उमर हो  इतनी   जरूर
                                                                               टीपो या ना टीपो पर इसे पढिये जरूर
****************************************************************************
ब्लोगर वन्दना दुबे                                             कहती है कुछ खास नही,   बस किस्सा और कहानी
                                                                               लिखती है जैसे जीवन हो शब्दो से करती मनमानी                                              
****************************************************************************        
ब्लोगर शिवानी                                      सबसे पहले आप ने करी टिप्पणी खूब 
                                                           बहुत दिनो से ना दिखी अरे मखमली दूब 
****************************************************************************        
ब्लोगर धीरेन्द्र "काफ़िर"                          गीत  गज़ल  कविता मे तू पारन्गत है ये माना
                                                            बाकी दुनिया ने तुझको मुम्बई वाउन्ड से जाना
****************************************************************************
 ब्लोगर सन्जय व्यास                                    मेरा ब्लोग मेरी सोच का सच्चा दर्पण है
                                                                         जो भी सीखा जीवन मे सब यझा अर्पण है          
 ****************************************************************************
ब्लोगर हेम ज्योत्सना                                        व्यस्त हो गये काम मे मिले नही अब वक्त 
                                                                                होली पर जरूरत पडी हेम ज्योति की सख्त 
****************************************************************************
ब्लोगर प्रगति                                                      सदा प्रगति के मार्ग मे आते है अबरोध 
                                                                                साधक साधे साधना हटते है गतिरोध
****************************************************************************
ब्लोगर डा. एस के मित्तल                                    उद्यम मे अब्बल रहे राष्ट्र धर्म मे लीन
                                                                                गौसेवा करते रहो कभी ना हो गमगीन 
****************************************************************************
ब्लोगर अमन                                                        पढने मे होशियार है कविता मे उस्ताद 
                                                                                 पहले कैरियर बना लो सीख रखो ये याद
****************************************************************************
ब्लोगर  अनुराधा श्रीवास्तव                               बडी बहिन सी सीख दे  कविता को दे दाद 
                                                                                 लगता है कुछ व्यस्त है आती हमको याद 
****************************************************************************
ब्लोगर नाम देव-ज्योत्सना पान्डे                      दिन भर आफ़िस मे फ़से  थके थके है सन्त
                                                                                  ज्योति बिखेरे ज्योत्सना कविता मे गुण्वन्त
****************************************************************************
ब्लोगर सूर्य कान्त गुप्ता                                        नित्य रेल से यात्रा घुमदत खूब बिचार 
                                                                                  सन्गत का भी असर है धूम मचा रहा यार 
****************************************************************************              
ब्लोगर योगेश सम्दर्शी                                          शब्द स्रिजन से ढूढते नित नये समाधान 
                                                                                  राष्ट्र प्रेम से प्रेरणा कलम से सर सन्धान 
****************************************************************************
ब्लोगर आवेश तिवारी                                           तेवर तीखे खूब है झुकना ना मन्जूर 
                                                                                  माल उडाते दलाल और कष्ट उठाते शूर
****************************************************************************
ब्लोगर राजीव जैन                                                 सिखा रही है जिन्दगी रोज नये ही पाठ
                                                                                   चीरफाड कर लिखे की खोल रहे ये गान्ठ                                                                                                                                                
****************************************************************************
ब्लोगर प्रकाश बादल                                              वन बिभाग का काम है पर उलटा - सुल्टा   नाम
                                                                                   बादल होन्गे जिस जगगह क्या प्रकाश का काम                                                                                                             
****************************************************************************                                                  
 दिगम्बर नासवा                                                     नाम दिगम्बर रखा पर कपडे पहने चार 
                                                                                    इस पर भी कुछ बता दो अपने शुद्ध विचार 
****************************************************************************
ब्लोगर अनिल कान्त                                             कह दो जो कहना है अब काहे डरना है
                                                                                   क्यू चिन्ता मुखौटा इक रोज उतरना है                                                                                    
****************************************************************************
ब्लोगर श्रद्धा जैन                                                      श्रद्धा तुम सच मे श्रद्धा हो अन्तरजाल के इस नभ मे                                
                                                                                हर वक्त  गज़ल सी लिखी रहो हर ब्लोगर के मन मे                                                
****************************************************************************
ब्लोगर शोभना चौधरी                                             पढने ही पढने मे मैने जीवन हाय बिता डाला
                                                                                  दूर अभी है पर कहत है हर पथ बतलाने बाला
*****************************************************************************  
  

28 comments:

वन्दना अवस्थी दुबे said...

होली की बहुत-बहुत शुभकामनायें वाह! खूब मेहनत की है आपने.बढिया पोस्ट.

Suman said...

आपको सपरिवार होली की बधाई.nice

Vivek Rastogi said...

होली की शुभकामनाएँ

anitakumar said...

हरि जी आप को भी सपरिवार होली की ढेर सारी शुभकामनाएं। आप का नवी मुंबई में स्वागत है।

Shobhna Choudhary said...
This comment has been removed by the author.
Shobhna Choudhary said...

होली मुबारक......सर आप भी कूद पड़े होली की मस्ती में...हा हा हा हा

महेन्द्र मिश्र said...

होली पर्व की अनेको शुभकामनाये ...

सूर्यकान्त गुप्ता said...

टिपियाये हैं बहुत सुंदर, सबके काम अनुरूप
हरि शर्मा भी कम नहीं, हैं इनके भी बहुरूप
हैं इनके बहुरूप, क्योंकि काम के साथ
ब्लॉग में लिपटयाये हैं
और इसीलिए सभी के लिए एकदम फिट टिपियाये हैं

ललित शर्मा said...

टिपियाये हैं बहुत सुंदर, सबके काम अनुरूप
हरि शर्मा भी कम नहीं, हैं इनके भी बहुरूप
हैं इनके बहुरूप, क्योंकि काम के साथ
ब्लॉग में लिपटयाये हैं
और इसीलिए सभी के लिए एकदम फिट टिपियाये हैं

ये टिप्पणी गुप्ता जी से लेकर उधार
आज का काम चला रहे हैं।
होली है आज भाई शर्मा जी
फ़ाग गा के हम नंगाड़ा बजा रहे हैं।


होली की बधाई

रंजन said...

mast..

happy holi

अजय कुमार झा said...

हा हा हा हरि भाई , क्या ट्रेलर है गज़ब का कमाल का ...सबको धोया है आपने बराबर से ..एक दम ढिंचक ढिंच पोस्ट है ...हा हा हा । आपको और पूरी परिवार को होली की बधाई

शरद कोकास said...

सबसे अच्छा नज़ीर अकबराबादी का यह कलाम लगा । नज़ीर ने ज़िन्दगी के कई रंगों पर लिखा है । हबीब तनवीर ने आगरा बाज़ार मे इस का उपयोग किया था ।
और उपाधियो के क्या कहने .. अपना नाम देखने के लिये दोबारा आना ही पड़ेगा ?

sanjay vyas said...

शुभकामनाएं होली की. चलाए रहें ये मस्ती.

rashmi ravija said...

क्या बात है...होली तो गज़ब की छाई हुई है...ब्लॉग जगत में...जहाँ देखो रंगों की बहार..
बड़े सुन्दर titles बनाए हैं
आपको और परिवार जाओं को होली की अनेक शुभकामनाएं

अविनाश वाचस्पति said...

मेरा नाम तो दे दिया
पर मेरा गाम कहां है

राजीव तनेजा said...

बहुत ही मज़ेदार तरीके से आपने पूरे ब्लॉगजगत को वर्णित किया है ...होली की बहुत-बहुत बधाई

अनूप शुक्ल said...

वाह!वाह! क्या जलवेदार टाइटिल है, हलवेदार पोस्ट है।

कविता वाचक्नवी Kavita Vachaknavee said...

खूब मस्ती ली है साथियों से !
शुभकामनाएँ!!

Udan Tashtari said...

हा हा!! बहुत शानदार....चुन चुन कर सटीक अलंकरण. :)


ये रंग भरा त्यौहार, चलो हम होली खेलें
प्रीत की बहे बयार, चलो हम होली खेलें.
पाले जितने द्वेष, चलो उनको बिसरा दें,
खुशी की हो बौछार,चलो हम होली खेलें.


आप एवं आपके परिवार को होली मुबारक.

-समीर लाल ’समीर’

RaniVishal said...

आपको सपरिवार होली की शुभकामनाएँ!!

शरद कोकास said...

अपना नाम देख कर मज़ा आ गया ..आपको भी होली की शुभकामनायें ।

यशवन्त मेहता "फ़कीरा" said...

kya rang lagaye hei 2-2 lines mei sab logan ko.......


आपको सपरिवार होली की ढेरो बधाईयाँ और शुभकामनाएँ

दीपक 'मशाल' said...

इस बार रंग लगाना तो.. ऐसा रंग लगाना.. के ताउम्र ना छूटे..
ना हिन्दू पहिचाना जाये ना मुसलमाँ.. ऐसा रंग लगाना..
लहू का रंग तो अन्दर ही रह जाता है.. जब तक पहचाना जाये सड़कों पे बह जाता है..
कोई बाहर का पक्का रंग लगाना..
के बस इंसां पहचाना जाये.. ना हिन्दू पहचाना जाये..
ना मुसलमाँ पहचाना जाये.. बस इंसां पहचाना जाये..
इस बार.. ऐसा रंग लगाना...

होली की उतनी शुभ कामनाएं जितनी मैंने और आपने मिलके भी ना बांटी हों...

Krishna Murari Prasad said...

होली मुबारक ...मजा आया...कुछ रंग इधर से भी....
http://laddoospeaks.blogspot.com/2010/02/blog-post_28.html

शहरोज़ said...

रंजन रस रंजन..रोचक मनोरोचक ..

होली की ढेरों शुभकामनाएं

shikha varshney said...

अरे वाह यहाँ भी है ये रंग...क्या बात है बहुत खूबसूरत अलंकरण किया है ...होली की शुभकामनाये आपको

प्रकाश पाखी said...

कमाल है!सबको लपेट लिया कि कोई बचा भी है...हा हा !
होली कि शुभकामनाएं!

HARI SHARMA said...

आप सभी जिन्होने होली की इस नामावली को पढकर टिप्पणी दी हो होली की पुन: शुभकामना

आभार -
वन्दना की, सुमन जी, विवेक, अनिता जी, शोभना, महेन्द्र जी, सूर्य कान्त जी, ललित जी, रन्जन, अजय, शरद जी, सन्जय, रश्मि जी, अविनाश जी, राजीव, अनूप जी, कविता जी, समीर जी, रानी जी, यशवन्त, दीपक, क्रिशन मुरारी जी, शहरोज, प्रकाश और शिखा जी आपके जीवन मै हर रोज होली और रात दीवाली हो.

आभारनत
हरि शर्मा